यूपी पुलिस वैसे तो अपना मानवीय कई बार दिखा चुकी है और अक्सर यूपी पुलिस की खबरे सामने आती रहती है फिर चाहे वो अपराधियों के खिलाफ हो या जनता के हित में उठाये गया कोई कदम हो। बता दे आज़ादी के अमृत महोत्सव के साथ साथ त्योहारों पर भी यूपी पुलिस की पूरी सुरक्षा टीम लोगो की सुरक्षा करने में जुटी हुई है और साथ ही ड्रोन और केमरो के जरिये निगरानी भी रखी जा रही है।

अब यूपी पुलिस का मानवीय चेहरा रक्षा बंधन को लेकर फिर सामने आया , जेल में बंद कई भाई ऐसे है जिनकी बहन उनको राखी नहीं बांध पाती और रक्षाबंधन के पावन अवसर पर बहनों की इस समस्या को हल करने के लिए रक्षाबंधन के दिन मंडलीय कारागार गोंडा में 1050 बंदियों को राखी बंधवाया जाएगा। लेकिन इस दिन मुलाकात का कार्यक्रम नहीं होगा। जानकारी के अनुसार, जिन बंदियों की राखी नहीं आती उनको ब्रह्मकुमारी संस्था से जुड़ी बहने रक्षाबंधन की पूर्व संध्या पर राखी बांधेंगी।

जानकारी देते हुए डिप्टी जेलर एसके तिवारी ने बताया कि मंडलीय कारागार में 1100 के करीब कुल बंदी है। इसमें से 50 महिलाएं हैं। पहले प्राथमिकता होगी कि गेट पर आईं बहनों को उनके भाइयों से मिलवाकर राखी बंधवाई जाए। इसके बाद जेल में बंद महिलाओं से मिलने आए भाइयों की राखी बंधवाई जाए। इतना ही नहीं डिप्टी जेलर  ने बताया कि रक्षाबंधन इस बार गोंडा मंडलीय कारागार में धूमधाम से मनाया जाएगा। सारी तैयारियां पूरी कर ली गई है। रक्षाबंधन  के दिन बहनों को जेल परिसर के अंदर उनको राखी, रोली चंदन और मिठाई दी जाएगी। इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। शासन के निर्देशों का कड़ाई से पालन किया जाएगा।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.